Sunday, October 2Information About Latest Technology

Online GST Registration कैसे करे? How to Online Registration Online?

Online GST Registration  कैसे करे? How to Online Registration Online? इस Article में मेने एकदम Simple तरीके से Explain किया हे। अगर आपको भी Online GST Registration  कैसे करे ? इसके बारे जानना हे तो Article को अंत तक पढ़े।  

GST क्या हे ?

Online GST Registration कैसे करे? GST क्या हे ? इसको जानने के लिए हमलोग जानेंगे की TAX क्या होता हे और क्या क्या हे। 

TAX क्या होता हे और क्या क्या हे?

TAX एक सरकारी संस्था द्वारा लगाया गया mandatory Contribution हे। जो Individuals या फिर Corporation लगाया जाता हे। ये एक नियम हे की Government टैक्स collect कर सकता हे और ये TAX चुकाना हम Indian citizen के लिए या फिर कोई Company के लिए Mandatory हे। नहीं तो जुर्माना भी हो सकता हे।

India में 2 types की Tax होते हे। Direct Tax and Indirect Tax

Direct Tax: Direct Tax (are those taxes which we pay to the Government Directly) वो taxes हे जो हम Direct Government को pay करते हे।

For Example

  • Income Tax जो हम Directly Government को पाय करते हे।
  • Capital & Gain Tax ये भी हम Directly Government को पाय करते हे। 
  • Securities Transaction Tax ये भी हम Directly Government को पाय करते हे।
  • Corporate Tax जो सरकार को Directly pay करना होता हे। 
  • Gift Tax जो हम सरकार को Direct pay करते हे 

ठीक इसी तरह और भी Taxes हे जो हम Directly सरकार को pay करते हे।  इसी तरह के taxes को हम Direct Tax कहते हे 

Indirect Tax : Indirect Tax ( are those taxes which we don’t pay Directly to government) वो taxes हे जो हम Directly pay नहीं कर सकते हे। इस तरह की Taxes को हम किसी के जरिये pay करते हे।

अगर हम कोई भी सामान या फिर कोई भी Services लेते हे तो जब हम उसकी कीमत चुकाते हे तो हम उस कीमत के साथ tax भी pay करते हे। इस तहह की taxes को हम Indirect Tax कहते हे।

For Example

Sales Tax : जब हम कोई भी सामान खरीदते हे तो उस सामान का जो दाम होता हे उसमे लिखा होता हे की (include of all taxes) इसका मतलब हम इसमें उस सामान के दाम के साथ tax भी pay कर रहे हे, और ये एक Indirect Tax हे।

Excise Tax : Excise tax भी Sales Tax की तरह ही हे। Excise tax वो टैक्स हे जो कोई Manufacturer अपने Company के लिए Raw  Materials खरीदते वक्त pay करते हे। ये भी एक तरह की Indirect Tax हे।

Custom Tax : Custom Tax वो tax हे जब सामान एक Country से दूसरी country में ले जाना होता हे तो वह पे भी tax देना होता हे। ये Tax Custom के पास चला जाता हे। ये भी Indirect Tax हे।

Aadhaar के साथ Mobile number कैसे लिंक करे ? Click Here

Gas Tax : जब हम अपनी Vehicle के लिए Gas oil खरीदते हे तो वह पे भी हमे tax देना होता हे।

Service Tax : जब किसी Entity के द्वारा कोई Service Provide किया जाता हे तो उस Services को लेने वाले Services के दाम के साथ साथ Tax भी Pay करना होता हे। उसे Service Tax कहते हे। ये भी एक तरह की indirect tax हे।

Value Added Tax (VAT) : ये Tax State Government द्वारा लिया जाता हे जब कोई सामान किसी Country Direct India में Sale किया जाता हे। इस Tax को VAT भी कहा जाता हे।

Stamp Duty : जब किसी State में कोई भी Immovable Property को Transfer किया जाता हे तो इसके तहत State Government Tax Charge करते हे, जिसे Stump Duty कहते हे। ये सारि Legal Documents में Applicable हे।

Entertainment Tax : ये Tax, वो Tax हे जो मनोरंजन के Related सारे Transactions में लगाया जाता हे। जैसे – Video Game, Movie Show, Sport Activates, etc.

और भी बहत सारे इस तरह के Taxes हे जिसे हम Indirect Tax कहते हे Click Her

तो हमने जाना की Direct Tax and Indirect Tax क्या होता हे।

तो हमने जाना की Direct Tax and Indirect Tax क्या होता हे। जितनी भी Indirect Taxes हे सारे taxes को हटाके एक ही Tax कर दिया हे जिसे हम GST (Goods and Service Tax) कहते हे।

GST यानि की Goods and Service Tax को सारे Indirect Tax  हटाकर एक ही tax बिठाया गया हे और वो हे GST.

GST को लागु किया  था 1 July 2017 से। 

GST Registration किसे करना चाहिए ?

अगर आज काल कोई भी किसी तरह के Business करना चाहते हे, चाहे वो Goods से related हो या फिर किसी Services के related, Small and Medium Business को सोडकर सारे Business  GST Registration करना Mandatory हे। 

आसान भाषा में, अगर कोई किसी Goods या फिर किसी Service प्रदान के business start  करता हे, और उस  business का Turnover 40 Lakhs से ऊपर हे (20 lakhs for नार्थ-ईस्ट) तो उस business को GST में Registration करना जरुरी हे।

इसके इलाबा अगर आप Interstate business करते हो तो आपको GST भरना पड़ेगा। 

अगर आप Online Business (E -Commerce ) करते हो और वो चाहे कितने पैसो कही क्यो नान हो आपको GST पड़ेगा। 

जैसेही GST में registration  होते हे उसके बादमे GST हर rules को पालन करने के साथ साथ TAX भरना भी अनिबर्य हे। 

GST काहा से आया और क्यो आया हे ?

क्या होता था की, GST से पहले अलग अलग State में अलग तरीके से tax लेता था। कोई State में 12% तो कोई State में 14% तो इस चीज जे Customer और Company दोनों के परेशानी होता था। इसीलिए Central Government ने ये Decision लिया की ये जितने तरह की Indirect Taxes हे इस सारे Taxes के जगह पे GST launch कर दिया। ताकि सभी State में Taxes एक ही रहे और इससे किसीको परेशानी भी न हो।   

कितने Types के GST होते हे ?

GST में 4 Types के GST होते हे

  • CGST (Central Goods and Service Tax)
  • SGST (State Goods and Service Tax)
  • UT GST (Union Territory Goods and Service Tax)
  • IGST (Integrated Goods and Service Tax)

इनमे से सिर्फ 2 ही GST हमे pay करना होता हे। चारो GST pay नहीं करना हे। 

CGST : यानि Central Goods and Service Tax वो Tax हे जब कोई सामान (Goods ) या फिर सेवा (Service) का Deal एक ही State में किसी दो ब्यक्ति बीज या फिर दो Company के बीज में होते हे तब ये CGST लगाया जाता हे। इस तरह के deal को Inter-State-Supply के Categories में रखा जाता हे। 

SGST: यानि की State Goods and Service Tax वो टैक्स हे जो किसी State के अंदर ही किसी चीज(Goods) या फिर किसी सेवा (Service) की सौदा होता हे तो State Government जो tax लागाते हे उसे SGST कहते हे। 

UT GST : यानि Union Territory Goods and Service Tax वो tax हे जो  Union Territory के अंदर किसी दो ब्यक्ति या फिर किसी दो Company के बीज किसी चीज (Goods) या फिर किसी सेवा (Service) का  Deal होते हे तो Union Territory governments द्वारा लगाया जाता हे। 

IGST : यानि की Integrated Goods and Service Tax, जब दो अलग अलग State के दो ब्यापारी के साथ या फिर दो Company के साथ किसी चीज (Goods) या फिर किसी सेवा (Service) को लेकर कोई भी सौदा होता हे तो उस पर IGST लगाया जाता हे। 

For Example :

अगर कोई चीज (Goods) दिल्ली में बनता हे और उसे मुंबई में Sale करते हे तो इसमें ये होता हे की Central Government CGST+UTGST 18% दिल्ली से लेता हे और जहा पे सामान Sale होते हे, यानि मुंबई को 9% Central Government दे देते हे। इस पूरी प्रोसेस को Integrated GST कहते हे। 

Online GST Registration कैसे करे? जानने के लिए इस Video को देखे। 

हमे कोन कोन सी GST Pay करना होता हे ?

जैसे हम जानते हे की GST 4 प्रकार की हे, CGST, SGST, UT GST, IGST. 

तो GST 4 प्रकार वाबजूद हमलोग सिर्फ 2 types की GST pay करते हे। अगर आप किसी State में रहते हे तो आपको सिर्फ CGST+SGST इन दो GST Pay करना हे। 

और अगर आप किसी Territory में रहते हो,और आप किसी चीज (Goods) या फिर किसी सेवा (Service) related business करते हो, तो आपको सिर्फ CGST + UTGST pay करना हे। 

Online GST Registration कैसे करे?

Step 1. Online GST Registration  करने  इस लिंक पर click करे Click Here

इस Form को fill-up करके Proceed पे क्लिक कर दीजिये 

  • 1st  में Taxpayer Select कीजिये 
  • 2nd में अपना State Select कीजिये 
  • 3rd  में अपना District Select कीजिये 
  • 4th में अपना Company Name या फिर अगर आपका कंपनी Proprietorship हे तो आपका PAN card में जो नाम हे वो लिखिए  
  • 5th में अपना /अपनी Company Pan Card Number लिखिए  
  • 6th में आपने Email लिखिए 
  • 7th में अपना मोबाइल Number लिखिए 
  • 8th Captcha fill कीजिये और Proceed कर दीजिये 

 Step 2.

OTP Verification

आपका मोबाइल और Email में OTP जायेगा वो दाल दीजिये और proceed करते ही आपका TRN दे दिया जायेगा 

Step 3 Proceed कर दीजिये 

अब TRN और Captcha fill करके फिरसे Proceed कर दीजिये |

Step 4.

GST Registration  कैसे करे ?

Proceed करते ही आपके mobile & Email में एक OTP आएगा उस OTP को यह पे डालके Proceed कर दीजिये 

Step 5

Online GST Registration  कैसे करे ?

Simply, आप Action Button में Click कर दीजिये  

Step 6.

Details Of Your Business

GST Registration  कैसे करे ?

Proceed  करते ही ये Page खोलेगा। इस Page को आप अपने हिसाब से Fill कर लीजिये 

Trade Name में आपका Business का क्या नाम रखना चाहते हे वो नाम दाल दीजिये 

Constitution of Business में Proprietorship Select कीजिये 

 Date of commencement of Business में आप जिस दिन आपका Business Start किया उस date को दाल दीजिये

Reason to obtain registration में Inter-State Supply Select कीजिये

Hostinger क्या हे ? Hostinger से कैसे website host करे ? Click Here

Date on which liability to register arises में आप GST Registration Date डाल दीजिये 

Date on which liability to register arises में आप GST Registration Date डाल दीजिये बाकी सब रहने दीजिये, उसके बाद Save & Continue में click कर दीजिये  

Step 7.

Personal Information

Online GST Registration

यहा पे आप आपकी सारे details डाल दीजिये और 100kb का एक Passport फोटो Upload कीजिये, Authorized Signatory को yes करके Save & Continue में Click कर दीजिये 

Step 8.

Primary Authorized Signatory

GST Application

यहां पे आपको कुछ नहीं करना हे, सिर्फ Primary Authorized Signatory में Click करके Save & Continue में click कर दीजिये 

Step 9.

Online GST Registration कैसे करे?

यहा पे भी आपको कुछ नहीं करना हे, सिर्फ Save & Continue में Click कर दीजिये

Step 10.

Details Of principle Place Of Business

Online GST Registration कैसे करे?

आप यहा पे आपका  Business Address डालेंगे,  आप अपना Center Jurisdiction Select करेंगे और Nature of possession of premises में एक Documents Upload कर दीजिये। 

Proof of Principal Place of Business में कोई Documents Select करके Upload कर दीजिये 

Nature of Business Activity being carried out at above mentioned premises में आपका जो हे वो Select कर लीजिये।

Have Additional Place of Business अगर आपका कोई दूसरा place में भी business हे तो tick कीजिये नहीं छोड़ दीजिये 

और Save and Continue में click कर दीजिये।

Step 11.

Online GST Registration कैसे करे?

यहा पे कुछ नहीं करना हे सिर्फ आप Continue कर दीजिये। 

Step 12.

Goods and Commodities

Gst Registration keise kare online

यहा पे आपको HSN  Select करना हे।  अगर आपका Business Goods से Related हे तो पहले Goods Select कर लीजिये और अगर Service से Related हे तो Service Select कर लीजिये। उसके बाद में   5 HSN Code Select कर लीजिये, और Save & Continue में Click कर दीजिये। 

Step 13.

Online GST Registration kise karna chahiye?

यहा पे भी आपको कुछ नहीं करना हे इस Page को Blank छोड़ना हे। 

Save & Continue में Click कर दीजिये।

Step 14.

Aadhaar Authentication

Online GST Registration keise kare

यहा पे अगर आपका Mobile Number पे Aadhaar OTP आता हे तो इसे Yes करके Continue करदिजिये या फिर No करके Manually Upload कीजिये और Save & Continue कीजिये 

Step 15.

Online GST Registration keise kare?

यहा पे आपको Name of Authorized Signatory को Select करके Place डाल दीजिये और Submit With EVC से Verify कर लीजिये।  उसके बाद 21 दिन के बाद आपके Business Place में GST Officer Verification के लिए आएंगे और Verify करेंगे और आपको GSTN मिल जायेगा।

तो ये था पूरा Process GST Online Apply करने का। 

आशा करता हु इस Article से आपको Online GST Registration कैसे करे? इस Concept Clear हो गया हे।  और आपको बहत Help हुवा हे। 

4 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.